एदे फोटू ल चपक के मुख्य पेज म लहुंटव—

सरकार के वायदा खिलाफी अउ कुशासन के खिलाफ कांग्रेस के जेल भरो अंदोलन

धान के 300 रुपिया बोनस, समर्थन मूल्य 2100 रुपिया अऊ आन 20 सूत्रीय मांग

अंजोर.रायपुर ए। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के जबर जलसा के मउका म उत्सव मनावत राज्य सरकार के वायदा खिलाफी अउ कुशासन के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस ह जेल भरो आंदोलन के ऐलान करे रिहिसे। जेमा मुख्य रूप ले झीरम घाटी हमला के न्यायिक जांच, चिटफंड कम्पनी के खिलाफ कार्रवाई, भ्रष्टाचार अउ महंगाई म लगाम, फर्जी मुठभेड़ के न्यायिक जांच, आउट सोर्सिंग म रोक, अजा-जजा ऊपर अत्याचार के कार्रवाई बंद कराय जइसन 20 सूत्रीय मांग ल लेके प्रदेश भर म जबर जेल भरो अंदोलन करे गिस। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल जी के अगुवाई म नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव, सांसद छाया वर्मा, पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा, मो. अकबर, करुणा शुक्ला मन रायपुर म अपन गिरफ्तारी दिस। अइसने कांग्रेस के बड़का नेता मनके सियानी म दुर्ग, राजनांदगांव, कोरबा, रायगढ़, बिलासपुर, जांजगीर-चाम्पा, अभनपुर, धमतरी, बलौदाबाजार, कवर्धा, महासमुंद, आरंग, जगदलपुर के अलावा जिला अउ ब्लॉग स्तर म तको आंदोलन करत कांग्रेस कार्यकर्ता मन अपन-अपन गिरफ्तारी दिस। जेमा पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. चरणदास महंत, पूर्व नेता प्रतिपक्ष रविन्द्र चौबे, सांसद ताम्रध्वज साहू, पूर्व अध्यक्ष धनेन्द्र साहू, प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष उमेश पटेल, एनएसयूआई अध्यक्ष आकाश शर्मा, पूर्व मंत्री अमितेष शुक्ला, पूर्व विधायक बोधराम कंवर के अलावा प्रदेश भर के कार्यकर्ता मन आंदोलन म शामिल होइन।

आर-पार के लड़ाई बर तइयार हवय शिक्षा कर्मी

अंजोर.रायपुर ए। राज भर ले सकलाये शिक्षा कर्मी मन अपन मांग ले लेके फेर राजधानी के धरना डउर म प्रदर्शन करत रैली निकाल के प्रशासन ल ज्ञापन सौंपे हावय। शिक्षाकर्मी मन मुख्य रूप ले मूल विभाग म संविलियन अउ शासकीयकरण, वेतनमान पुनरीक्षण क्रमोन्नत वेतनमान, अनुकम्पा नियुक्ति म प्रशिक्षण के अनिवार्यता खतम करे जइसन मांग करत हावय। धरना डउर म सकलाय शिक्षाकर्मी मन अब अपन 10 सूत्रीय मांग ल लेके आर-पार के लड़ाई के मन बना डरे हावय। घेरी-बेरी गलौली करे बाद अब कहू प्रशासन ऊंखर बात ल नइ मानही तव फेर 8 तारीख के जनप्रतिनिधि मनला मिलके ज्ञापन सौंपही, तभो जब बात नइ बनही तव 15 नवंबर के विकासखंड मुख्यालय म धरना प्रदर्शन अउ 17 नवंबर के विधानसभा घेराव करे जाही। शिक्षक संघर्ष समिति अउ एकता मंच के बेनर म जुरियाए प्रदेश भर के शिक्षा कर्मी मन काहत हावय के ये आखरी रैली अउ धरना आए येकर बाद आर-पार के लड़ाई होही। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें